2018 में भारत की विकास दर 7.3 फीसद हो सकती है - वर्ल्ड बैंक

GN Bureau | Wednesday 10 January 2018

2018 में भारत की विकास दर 7.3 फीसद हो सकती है - वर्ल्ड बैंक

अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर लगातार आलोचना झेल रही केन्द्र की मोदी सरकार के लिए विश्व बैंक की ताजा रिपोर्ट राहत की खबर लेकर आई है। सरकारी एजेंसी सीएसओ के अनुमान के उलट विश्व बैंक ने अपनी ताजा रिपोर्ट में भारत की विकास दर साल 2018 में 7.3 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया है। वर्ल्‍ड बैंक की ओर से जारी 2018 ग्‍लोबल इकोनॉमिक्‍स प्रॉस्‍पैक्‍ट के मुताबिक नोटबंदी और जीएसटी के शुरुआती झटकों के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था में मजबूती देखी जा रही है जिससे 2017 में विकास दर 6.7 फीसद रहने का अनुमान है। इस तरह 2017 में विकास की ये दर चीन के 6.8 से महज 0.1 फीसद कम है। अनुमान के मुताबिक अगले दो सालों में भारत की विकास दर 7.5 फीसद से भी आगे चली जाएगी और इस तरह वो चीन को भी पीछे छोड़ देगा।

विश्व बैंक के डेवलपमेंट प्रॉस्पेक्ट्स ग्रुप के डायरेक्टर आह्यान कोसे ने है कि चीन की विकास दर धीमी हो रही है जबकि उसकी तुलना में भारत के ग्रोथ रेट में तेजी आ रही है। उनका कहना है कि अगले दस सालों में भारतीय अर्थव्यवस्था दुनिया की किसी और अर्थव्यवस्था के मुकाबले उच्च विकास दर हासिल करने जा रही है। 

रिपोर्ट के मुताबिक चीन का ग्रोथ रेट 2018 में 6.4 फीसद रहने का अनुमान है। जबकि उसके बाद के दो सालों में अनुमान के मुताबिक ये घटकर 6.3 फीसद और 6.2 फीसद हो सकता है।

 


Hindi News