जानिए कौन हुआ धराशायी और किसके सिर पर सजा ताज

GN Bureau | Monday 18 December 2017

जानिए कौन हुआ धराशायी और किसके सिर पर सजा ताज

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राजकोट पश्चिम से चुनाव से चुनाव जीत लिया है। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के इंद्रनील राज्यगुरू को पचास हजार से ज्यादा वोटों से शिकस्त दी है। साथ ही मेहसाणा सीट से डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने भी सात हजार से ज्यादा वोटों से जीत हासिल कर ली है। उधर, वडगाम से निर्दलीय उम्मीदवार जिग्नेश मेवाणी ने बीजेपी के चक्रवर्ती विजय कुमार हरखाभाई को हरा दिया है। राधनपुर से अल्पेश ठाकोर ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी बीजेपी के लविन्गजी ठाकोर को हरा दिया है।

एक चौंकाने वाले नतीजे में पोरबंदर सीट से कांग्रेस के दिग्गज अर्जुन मोढवाडिया को बीजेपी के बाबूभाई बोखिरिया ने 1855 वोटों से शिकस्त दे दी है। वहीं कांग्रेसी दिग्गज शक्ति सिंह गोहिल मांडवी पश्चिम से चुनाव हार गए हैं। सबसे सनसनीखेज परिणाम हिमाचल के सुजानपुर से आया है जहां बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल चुनाव हार गए हैं।

भावनगर पश्चिम से बीजेपी के गुजरात प्रदेश अध्यक्ष जीतू वघानी ने अपने निकटतम उम्मीदवार कांग्रेस के दिलीप सिंह गोहिल की परास्त कर दिया है। उधर,मणिनगर सीट भी बीजेपी के खाते में गई है। यहां बीजेपी उम्मीदवार सुरेश पटेल ने जीत दर्ज कर ली है। कभी नरेंद्र मोदी की सीट रही मणिनगर से बीजेपी ने 75 हजार से ज्यादा वोटों से जीत हासिल की।

2012 में गुजरात में बीजेपी ने 115 सीटें जीती थी जबकि कांग्रेस 61 सीटों पर विजयी रही थी। लेकिन इस बार के आंकड़ों के अनुसार बीजेपी को बहुमत भले ही मिल गया हो लेकिन उसे आत्मविश्लेषण की आवश्यकता है। पार्टी अपना पुराना प्रदर्शन दोहराने में नाकामयाब रही है। जबकि कांग्रेस भले ही बीजेपी के 22 सालों की सत्ता के तिलस्म को तोड़ने में कामयाब नहीं रही हो लेकिन उसका प्रदर्शन इस बार 2012 के मुकाबले काफी अच्छा रहा है।

    


Hindi News