तलवार दंपत्ति जेल से रिहा

GN Bureau | Monday 16 October 2017

तलवार दंपत्ति जेल से रिहा

तलवार दंपत्ति सोमवार को शाम करीब पांच बजे डासना जेल से रिहा हो गए। तलवार दंपत्ति को लेने के लिए डासना जेल में उनके वकील और राजेश तलवार के भाई दिनेश तलवार पहुंचे थे। जेल के बाहर मीडियाकर्मियों का जमावड़ा लगा था लेकिन उन् लोगों ने मीडियाकर्मियों से कोई बात नहीं की। 

रिहाई को लेकर पुलिस पूरी तरह से सतर्क थी। उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच जेल से रिहा किया गया। एसएसपी गाजियाबाद ने पहले ही कह रखा था कि पुलिस सुरक्षा में आरुषि के माता-पिता को घर पहुंचाया जाएगा। गौरतलब है कि इससे पहले एक बार इस मामले की सुनवाई के दौरान राजेश तलवार पर जानलेवा हमला हो चुका है इसलिए पुलिस इस बार काफी सतर्क थी। 

इधर रिहाई के लिए सीबीआई कोर्ट में सुबह से ही तलवार दंपत्ति के वकील सक्रिय थे।सीबीआई जज पवन तिवारी के छुट्टी पर रहने की वजह से जज राजेश चौधरी की कोर्ट में रिहाई की पूरी प्रक्रिया चली। कोर्ट में जमानत बांड देने के लिए राजेश तलवार के भाई डॉ दिनेश तलवार और चार अन्य लोग तलवार के वकीलों के साथ कोर्ट में मौजूद रहे। 

राजेश तलवार ने डासना जेल में 3 साल 10 माह और 21 दिन बतौर सजायाफ्ता कैदी के तौर पर काटे वहीं विचाराधीन के तौर पर 1 माह 20 दिन जेल में काटे हैं, जबकि नुपूर तलवार ने डासना जेल में 3 साल 6 माह और 22 दिन सजायाफ्ता कैदी के तौर पर काटे और विचाराधीन के तौर पर 4 माह 26 दिन जेल में काटे हैं। तलवार दंपत्ति 12 अक्टूबर को ही हाई कोर्ट द्वारा बरी कर दिया गया था लेकिन उनकी रिहाई सोमवार को ही हो पाई। 

डासना जेल में रहने के दौरान जेल में डेंटल क्लिनिक के सेटअप में तलवार दंपति ने अहम योगदान दिया है। जेल अधिकारियों के अनुसार जेल में रहने के दौरान कैदियों के इलाज के एवज में मिलने वाला मेहनताना उन्होंने नहीं लिया। इसके अलावा तलवार दंपति ने जेल में बिताए अपने 1417 दिनों के दौरान करीब 99 हजार रुपये कमाए लेकिन इसे उन्होंने जेल में कैदियों के कल्याण के लिए ही छोड़ दिया। 

 


Hindi News