EPS-OPS ने मिलाया हाथ, एकजुट हुआ AIADMK

GN Bureau | Monday 21 August 2017

EPS-OPS  ने मिलाया हाथ, एकजुट हुआ AIADMK

तामिलनाडु की राजनीति में बड़ा फेरबदल हुआ है। मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी और बागी नेता ओ. पनीरसेल्वम के नेतृत्व वाले अन्नाद्रमुक के दोनों धड़ों का विलय हो गया। ये विलय काफई दिनों से प्रस्तावित था लेकिन कुछ न कुछ वजहों से ये विलय स्थगित हो जा रहा था। पार्टी की सर्वेसर्वा जे जयललिता के निधन के बाद मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने के बाद ओ.पनीरसेल्वम बागी हो गए थे। इधर शशिकला कला के जेल जाने के बाद पार्टी के अंदर टी. दिनाकरण को महत्व दिए जाने के बाद से मुख्यमंत्री ई पलानीस्वामी नाराज हो गए थे। 

दोनों गुटों के विलय के बाद एआइएडीएमके एकजुट हो गया है। लेकिन इस एकता के लिए दोनों पक्षों को काफी पापड़ बलने पड़े हैं। संगठन से लेकर सरकार तक में दोनों पक्षों को तरजीह मिली है। विलय के बाद नए फार्मूले के अनुसार ओ. पनीरसेल्वम पार्टी के संयोजक होंगे जबकि सीएम  ई-पलानीस्वामी पार्टी के सह-संयोजक होंगे और के.पी.मुनुस्वामी डिप्टी-संयोजक होंगे। सीएम ई पलानीस्वामी बने रहेंगे लेकिन उपमुख्यमंत्री का पद पनीरसेल्वम सौंपा गया है उन्हें इसके साथ ही वित्त मंत्रालय भी दिया गया है।

इस विलय से पहले जयललिता के मौत की जांच की पनीरसेल्वम गुट की मांग को पलानीसामी ने मांग लिया था और अम्मा की मौत के जांच के आदेश जारी कर दिए गए थे। इसके अलावा इस विलय का रोड़ा बने शशिकला के भांजे टी दिनाकरण को और शशिकला को साइड लाइन कर दिया गया है। 

एआइएडीएमके के दोनों धड़ों के बीच विलय के बाद पार्टी के एनडीए में शामिल होने की संभावना बढ गयी है। माना जा रहा है कि कैबिनेट फेरबदल से पहले इस विलय का इंतजार किया जा रहा था। अब एआइएडीएमके और जेडीयू को केंद्र सरकार के मंत्रिपरिषद में जल्द जगह मिल सकती है।


Hindi News