People

  क्या दिन बदलेंगे महाराजा के
Wednesday 10 January 2018
क्या दिन बदलेंगे महाराजा के घाटे में चल रही एयर इंडिया में 49 फीसदी विदेशी निवेश को सरकार ने मंजूरी दे दी है।   ...Read More
 
 
  कड़ाके की ठंड में नदी में जम गए मगरमच्छ
Wednesday 10 January 2018
कड़ाके की ठंड में नदी में जम गए मगरमच्छ कड़ाके की ठंड में अमेरिका के उत्तरी कैरोलिना में एक नदी भी जम गई है जिसमें मगरमच्छ अपना जबड़ा बाहर निकाले जमे दिखाई दे रहे हैं। ...Read More
 
 
  सफेद पड़ा सहारा रेगिस्तान, बर्फबारी से बदला नजारा
Wednesday 10 January 2018
सफेद पड़ा सहारा रेगिस्तान, बर्फबारी से बदला नजारा दुनिया का सबसे गर्म रेगिस्तान माने जाने वाले सहारा रेगिस्तान में इन दिनों कड़ाके की ठंड पड़ रही है। भारी बर्फबारी से यहां का तापमान काफी नीचे आ गया है। लाल रेत पर बर्फ की चादर से ढंका पूरा रेगिस्तान फिलहाल सफेद पड़ गया है। पिछले चार दशक के अंदर यहां तीसरी बार बर्फबारी देखने को मिली है। सबसे पहले 1979 में यहां बर्फबारी हुई थी। इसके बाद 2016 और 2017 में भी यहां बर्फबारी हुई थी। गेट वे टू सहारा डेजर्ट के नाम से मशहूर उत्तरी अल्जीरिया के एन सेफरा में शहर के बाहर रेत के कई टापू बर्फ की चादर से ढंक गए हैं। गर्मी के दिनों में यहां का तापमान अमूमन 50 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहता है। लेकिन बर्फबारी के बाद यहां का तापमान गिरकर 12 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। रेगिस्तानी इलाके में मौसम के इस बदलते मिजाज से वैज्ञानिकों के उन अनुमानों को बल मिला है जिसमें कहा गया था कि करीब 15000 सालों में इस सूखे इलाके में हरियाली आ जाएगी।   ...Read More
 
 
  जानें कहां दिखी ‘द बर्निंग ट्रेन’
Wednesday 10 January 2018
जानें कहां दिखी ‘द बर्निंग ट्रेन’ मोकामा रेलवे स्टेशन पर खड़ी पटना मोकामा पैसेंजर ट्रेन की बोगियों में भयंकर आग लग गयी जिसमें 4 बोगियां जल कर खाक हो गयी। इस घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं हैं। ...Read More
 
 
  एएमयू स्कॉलर मन्नान वानी हिज्बुल मुजाहिदीन में हुआ शामिल – सलाहुद्दीन
Tuesday 09 January 2018
एएमयू स्कॉलर मन्नान वानी हिज्बुल मुजाहिदीन में हुआ शामिल – सलाहुद्दीन एएमयू स्कॉलर मन्नान वानी कुख्यात आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया है। हिज्बुल मुजाहिदीन के सरगना सैयद सलाहुद्दीन ने एक बयान जारी कर इसकी पुष्टि की है। सोशल मीडिया में एके-47 रायफल के साथ लगी उसकी तस्वीर के सामने आने के बाद ये चर्चा जोर पकड़ने लगी थी कि मन्नान ने आतंकवाद की राह पकड़ ली है। मन्नान के आतंकी संगठन में शामिल होने के बाद सलाहुद्दीन ने कहा कि ताजा मामले से सरकार के वे दावे झूठे साबित होते हैं जिसमें ये कहा जाता है कि बेरोजगारी और आर्थिक तंगी के चलते कश्मीरी युवक हथियार उठा लेते हैं। साथ ही सलाहुद्दीन ने ये भी दावा किया है कि कश्मीर के पढ़े लिखे कई युवाओं का पिछले काफी समय से हिज्बुल में शामिल होने का सिलसिला जारी है।   एएमयू से चला मन्नान तय वक्त पर जब अपने घर नहीं पहुंचा तो परिवार वालों ने किसी अनहोनी के अंदेशे से उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज करायी। बीते 3 नवंबर को उसकी परिवार वालों से आखिरी बार बात हुई थी। 4 जनवरी को उसका मोबाइल फोन लोकेशन दिल्ली में ट्रेस हुआ था। लेकिन इसके बाद से उसका फोन लगातार स्विच ऑफ बताता ...Read More