Performance

  कितना सुरक्षित है मोबाइल बैंकिंग
Friday 09 December 2016
कितना सुरक्षित है मोबाइल बैंकिंग आजकल जेब में कैश ना हो तो भी काम चल जाता है, बस आपकी जेब में आपका मोबाइल होना चाहिए क्योंकि बटुए का काम अब आपका मोबाइल भी करता है। लेकिन ऑनलाइन लेन-देन में धोखाधड़ी के किस्से सुनके ये शंका होती है की यह मोबाइल बैंकिंग कितना सुरक्षित है।  ...Read More
 
 
  इसरो को एक और सफलता
Thursday 08 December 2016
इसरो को एक और सफलता इसरो को एक और कामयाबी मिली है । इसरो ने बुधवार को रिमोट सेंसिंग सैटलाइट रिसोर्ससैट-2ए को सफलतापूर्वक अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित कर दिया है। इसे सुबह 10.24 बजे पीएसएलवी-सी36 की मदद से लॉन्च किया गया था। यह रिसोर्ससैट-1 और 2 की कड़ी का सैटलाइट है। इस सैटेलाइट का वजन 1235 किलो है और यह सैटलाइट भारत के जमीनी संसाधनों के बारे में जानकारी देगा। जैसे की यह भारत की वन संपदा और जल संसाधनों के बारे में जानकारी देगा। इससे यह जानने में भी मदद मिल सकती ह ...Read More
 
 
  आरबीआई में नगद की कमी
Thursday 08 December 2016
आरबीआई में नगद की कमी  नोटबंदी को एक महीना हो गया है लेकिन सहकारी बैंकों की स्थिती वैसी की वैसी है। ना ग्राहकों को राहत मिल सकी है ना ही कर्मचारीओं को। देश के एक तिहाई सहकारी बैंक महाराष्ट्र में हैं। महाराष्ट्र अर्बन कॉपरेटिव बैंक्स फेडरेशन लिमिटेड की सेक्रेटरी तथा सीईओ सायली भोईर का मानना है की इस परेशानी की वजह आरबीआई है। ...Read More
 
 
  क्या 50 दिन काफी होगा?
Monday 05 December 2016
क्या 50 दिन काफी होगा? नोटबंदी हुए एक महीना होने को है लेकिन अभी भी बैंकों और एटीएम के बाहर लोगों की कतारें छोटी नहीं हो रहीं। कतारों में खड़े बहुत लोग मोदी के नोटबंदी के फैसले से खुश तो हैं लेकिन कैश की किल्लत से बहुत परेशान भी।  ...Read More
 
 
  पे डे के लिए तैयार नहीं दिखे बैंक
Thursday 01 December 2016
पे डे के लिए तैयार नहीं दिखे बैंक नोटबंदी के बाद बैंकों की असली चुनौती सैलरी डे से शुरु हो गयी है। गुरुवार एक दिसंबर को आम दिनों की अपेक्षा बैंकों में अपनी सैलरी निकालने वाले लोगों की भारी भीड़ इकट्ठा हो गयी। सैलेरीड क्लास के लोगों के साथ साथ पेंशनर्स भी बैंकों के सामने कतारों में नजर आए। बैंकों ने सैलरी वीक को ध्यान में रखते हुए विशेष तैयारी करने की बात कही थी लेकिन वो तैयारी कहीं दिखी नहीं। ...Read More