Policy

  गैरकानूनी होगा ट्रिपल तलाक
Friday 15 December 2017
गैरकानूनी होगा ट्रिपल तलाक अब ट्रिपल तलाक देने वालों की खैर नहीं। सरकार जल्द ही ट्रिपल तलाक पर कानून ला रही है। शुक्रवार को ट्रिपल तलाक के खिलाफ संसद के शीतकालीन सत्र में पेश होने वाले विधेयक के मसौदे पर मोदी कैबिनेट ने मुहर लगा दी है। इसको `मुस्लिम वीमेन प्रोटेक्शन ऑफ राइट्स ऑन मैरिज बिल` कहा जाएगा। इसक बिल के तहत यदि पति, पत्नी को एक बार में तीन तलाक देता है तो उसे तीन साल की जेल हो सकती है। पति को जमानत भी नहीं मिल सकेगी। इसके अलावा पत्नी और बच्चों के लिए हर्जाना भी देना पड़ेगा। केंद्र सरकार की ओर से तैयार विधेयक के मसौदे में कहा गया है कि एक बार में तीन तलाक गैरकानूनी होगा। किसी भी स्वरूप में दिया गया ट्रिपल तलाक चाहे वो मौखिक हो, लिखित हो या फिर इलैक्ट्रॉनिक इसे गैर कानूनी माना जाएगा। अगर किसी महिला को ट्रिपल तलाक दिया जाता है तो वह महिला खुद और अपने नाबालिग बच्चों के लिए अपने पति से भरण-पोषण व गुजारा-भत्ते की मांग कर सकती है। गौरतलब है कि बीजेपी ने तीन तलाक को बड़ा मुद्दा बनाया हुआ है। यूपी चुनावों के दौरान बीजेपी ने जोर शोर से ट्रिपल तलाक का विरोध किया था। चुनाव परिणामों ...Read More
 
 
  मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया की जगह लेगा नेशनल मेडिकल कमीशन
Friday 15 December 2017
मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया की जगह लेगा नेशनल मेडिकल कमीशन सरकार मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया यानि एमसीआई को समाप्त करने जा रही है। एमसीआई की जगह सरकार ने राष्ट्रीय मेडिकल आयोग बनाने का प्रस्ताव रखा है। नीति आयोग ने सरकार के पास इस संबंध में एक प्रस्ताव रखा है। ये प्रस्ताव शुक्रवार को कैबिनेट की बैठक में पेश किया गया। इस बिल के मसौदे को नीति आयोग के तत्कालीन उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया की अध्यक्षता में बनी चार सदस्यीय समिति ने तैयार किया है।   इस बिल के मुताबिक मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया एक्ट 1956 को संशोधित कर नेशनल मेडिकल कमीशन गठित करने की बात कही गयी है। एनएमसी देश में मेडिकल शिक्षा और व्यवसाय से संबंधित देश की शीर्ष संस्था होगी। मेडिकल कमीशन के सदस्यों का चुनाव मेरिट के आधार पर पारदर्शी तरीके से किया जाएगा। एनएमसी में एक चेयरपर्सन, एक मेंबर सेक्रेटरी और आठ सदस्य और दस पार्ट टाइम सदस्य होगें।     इस बिल के मुताबिक अंडर ग्रेजुएट मेडिकल प्रवेश परीक्षा के लिए पूरे देश में एक नेशनल एलिजीबिलीटी कम इंट्रेंस टेस्ट यानि नीट परीक्षा का आयोजन होगा। इसमें सफल होने वालों को ही मेडिकल में प्रवेश मिल सकेगा। खा ...Read More
 
 
  भारत को लंबे समय तक मिलेगा नोटबंदी का लाभ – आईएमएफ
Friday 15 December 2017
भारत को लंबे समय तक मिलेगा नोटबंदी का लाभ – आईएमएफ नोटबंदी से भले ही शुरुआती दिनों में आम आदमी और व्यापारियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा हो, लेकिन इसका लाभ लोगो को काफी बाद तक मिलता रहेगा। ये मानना है अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) का। आईएमएफ के मुताबिक पिछले साल नवम्बर में भारत में हुई नोटबंदी का लाभ लोगों को आगे भी मिलता रहेगा। आईएमएफ के अधिकारी विलियम मरे ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि "हमें लगता है कि भारत में मोदी सरकार की ओर से एक वर्ष पहले की गई नोटबंदी के शानदार लाभ सामने आएंगे। इस लाभ के दूर तक जाने की संभावना है।" विलियम के मुताबिक नोटबंदी की वजह से नकदी की कमी के कारण मुख्य रूप से शुरूआती समय पर निजी उपभोग और लघु उद्योग की आर्थिक गतिविधियों में कुछ अस्थायी बाधाएं पैदा हुईं और उसकी वजह से कारोबार पर असर पड़ा और आम जनता को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा, लेकिन ये प्रभाव अस्थायी होंगे और कुछ समय बाद ही नोटबंदी के फायदे लोगों के सामने आ जाएंगे। आईएमएफ के मुताबिक नोटबंदी के बाद लोगो में बैंकिंग प्रणाली एवं डिजिटल भुगतान को लेकर ज्यादा जागरूकता आयी है। नोटबंद ...Read More
 
 
  जाधव को राजनयिक पहुंच देने से पाक का फिर इनकार
Thursday 14 December 2017
जाधव को राजनयिक पहुंच देने से पाक का फिर इनकार जासूसी और विध्वंसकारी गतिविधियों के आरोप में पाकिस्तान की जेल में कैद पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव को एक बार फिर राहत नहीं मिली है। बुधवार को इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) में पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव को राजनयिक पहुंच देने से इनकार कर दिया है। पाक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक आईसीजे में अपनी दलील में पाकिस्तान ने कहा है कि वियना कन्वेंशन के प्रावधानों के तहत राजनयिक पहुंच सिर्फ आम कैदियों को ही मुहैया कराया जाता है, उन कैदियों को नहीं जिन्हें जासूसी के आरोप में पकड़ा गया है। अपनी दलील को असरदार बनाने के लिए पाकिस्तान ने आरोप लगाया है कि भारत कुलभूषण जाधव से पाकिस्तान में इकट्ठा की गई सूचना लेना चाहता है इसलिए वह राजनयिक पहुंच के लिए दबाव बना रहा है। पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भारत ने इस बात का कभी ठोस जवाब नहीं दिया कि कुलभूषण जाधव मुस्लिम नाम के पासपोर्ट पर यात्रा क्यों कर रहे थे। पाकिस्तान लगातार ये कहता आ रहा है कि जासूसी के मकसद से ईरान के रास्ते पाकिस्तान के बलूचिस्तान में दाखिल हुए जाधव को उसके सुरक्षा बलों ने ...Read More
 
 
  ट्रंप सरकार का विवादित फैसला
Thursday 07 December 2017
ट्रंप सरकार का विवादित फैसला ट्रम्प सरकार के एक अति महत्वपूर्ण फैसले से पश्चिम एशिया में माहौल बिगड़ने का खतरा बन गया है। अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप ने विरोधों को नजरअंदाज करते हुए येरूशलम को इजरायल की राजधानी घोषित कर दिया है।  ...Read More